कथावाचक चिन्मयानंद ने मांगी माफ़ी, कहा - अब नहीं गाऊंगा अल्लाह-मौला, गलती हो गयी


देश मे सेक्युलरिज्म का ये हाल है कि इन दिनों खुद को संत महात्मा कहकर चलने वाले बहुत से लोग राम कथा,भागवत कथा के मंच से अली मौला, अल्लाह अल्लाह अल्लाह, सुभान अल्लाह गा रहे है

समाज भी एक हद तक सहन कर सकता है और इन दिनों हिन्दू धर्म कथा के मंचों से अल्लाह मौला करने वालो की आलोचना सोशल मीडिया पर की जा रही है, इन कथित संतों के वीडियो भी वायरल हो रहे है

चिन्मयानंद भी एक ऐसे ही कथा वाचक है जो भागवत कथा के मंच से अल्लाह मौला गा रहे थे, इनकी भी लोगो ने आलोचना की

आलोचना के बाद अब सामने आकर चिन्मयानंद ने माफी मांगी है और अपनी गलती स्वीकार की है, देखिए

सेकुलरिज्म फैलाने की इस देश मे आज़ादी है पर हिन्दू धर्म कथा के मंच से अल्लाह मौला करना सरासर गलत है, चिन्मयानंद ने भी अपनी गलती को स्वीकार किया और वादा किया की वो अब कभी अल्लाह मौला नही करेंगे।